आपणी भासा म आप’रो सुवागत

'आपणी भासा' ई-पत्रिका में मारवाड़ी समाज से जुड़ी जानकारी, सामाजिक बहस व समाज में व्याप्त कुरीतियोँ के प्रति सजग इस पेज पर आप समस्त भारतीय समाज के संदर्भ में लेख प्रकाशित करवा सकतें हैं। हमें सामाजिक लेख, कविता, सामाजिक विषय पर आधारित कहानियाँ या लघुकथाऎं आप मेल भी कर सकतें हैं। सामाजिक कार्यक्रमों की जानकारी भी चित्र सहित यहाँ प्रकाशित करवा सकतें हैं। मारवाड़ी समाज से जुड़ी कोई भी संस्था हमारे इस वेवपेज पर अपनी सामग्री भेज सकतें हैं। आप इस ब्लॉग के नियमित लेखक बनना चाहतें हों तो कृपया अपना पूरा परिचय, फोटो के साथ हमें मेल करें।- शम्भु चौधरी E-Mail: ehindisahitya@gmail.com



अब तक की जारी सूची:

गुरुवार, 10 नवंबर 2011

मोडीया लिपि ‘महाजनी’ / Modiya Script

एक समय में राजस्थान अंचल में ‘मोडीया लिपि’ का प्रचलन था। इसको देश भर में ‘महाजनी’ के नाम से भी इसे जाना जाता था। इन दिनों इसका प्रचलन समाप्त को चुका है। देश भर के मारवाड़ी व्यापारी इसका प्रयोग खाता-बही लिखने व हुण्डी काटने आदि में प्रयोग करते थे। महाजनी में अंक को ‘पहाडा’ कहा जाता है। जिसमें एक आणा, दो आणा या एक, दो, तीन, चार बोला जाता था। इसके विषय में अगले लेख में जानकारी दूंगा। आज आपको यहाँ पर मोडभ्या लिपि देखने में कैसी होती थी इसका नमूना नीचे चित्र में दे रहा हूँ। - शंभु चौधरी


Modiya Script "Mahajani"

Modiya Script

9 टिप्‍पणियां:

  1. इ री उडीक हि घना दिना हु !!!

    जवाब देंहटाएं
  2. मुड़िया अक्षर एवं वर्णमाला लिपि लिखने व पढ़ने की विधि का प्रकाशन आप अपने माध्यम से पुस्तक के रपोरेट में करे व करवाने की मेहरबानी करें जी ।।

    यह हमें चाहिए और इसकी हमें जरूरत भी है।

    जवाब देंहटाएं
  3. मैं यह मुड़िया लिपि पढ़ और लिख सकता हूं मेरे पास 150 साल पहले की हस्त लिखित पुस्तक है

    जवाब देंहटाएं
    उत्तर
    1. इसके व्यंजन तथा स्वर कैसे होते है और इनसे शब्द कैसे बनते है।

      हटाएं
    2. कृपा करके पुस्तक साझा करें, यह मोडिया तथा राजस्थानी की बड़ी सेवा होगी।

      हटाएं
  4. मुड़िया अक्षर एवं वर्णमाला लिपि लिखने व पढ़ने की विधि का प्रकाशन आप अपने स्वरूप में पुश्तक के रूप में करें। ताकि इस विलुप्त लिपि व ज्ञान को पुनः जीवन दिया जा सके जी।धन्यवाद

    जवाब देंहटाएं
  5. तथा इसे हम पुन:मारवाड़ी युवा मंच और भाईयों को बता सके जी।

    जवाब देंहटाएं
  6. मुडिया लिपि माय रुपिया और पया लिखण रो तरीखों भी लिखावो सा...

    जवाब देंहटाएं

आप अपनी बात कहें:

मेरे बारे में कुछ जानें: